अद्भुत शक्तियों के मालिक होते हैं कुछ---

February 3, 2016, 03:47 PMYug Jagran
image

यदि परमात्मा अपनी सृष्टि की प्रत्येक वस्तु को एक समान बनाता तो उसमें सौंदर्य न होता। विभिन्नता के रूप में परमात्मा ने अपनी समूची सृष्टि पर विशेष कृपा की है। किसी व्यक्ति ने मजाक में कहा है, ‘‘दुनिया को बनाते समय भगवान का हाल कुछ ऐसा हुआ होगा, जैसे रोटी बनाते हुए महिलाओं का होता है। जब भगवान ने पहली रोटी बनाई तो थोड़ी कच्ची रह गई। कच्ची रोटी बनने का मतलब यूरोप के रहने वाले लोग हैं। भगवान इसमें थोड़ा अच्छा रंग नहीं दे पाए। जब वे दोबारा रोटी बनाने लगे तो वह जल गई और अफ्रीका के लोग बन गए। इस पर भगवान ने सोचा कि अब रोटी बिल्कुल सही बननी चाहिए। ऐसे में वह सही रोटी बनी। इस बार हिन्दुस्तान के लोग बने-न ज्यादा काले, न ज्यादा सफेद, न बहुत छोटे और न बहुत लम्बे।’’

 

हम लोग व्यंग्य-विनोद करते हुए इस तरह की बातें कह देते हैं लेकिन परमात्मा ने कहीं भेद नहीं किया। जिसे भी जहां आप देखें, परमात्मा ने सब पर अपनी कृपा की है। परमात्मा ने हर व्यक्ति को एक अलग की तरह आवाज और शरीर में एक खास तरह की गंध दी है। इसके साथ ही प्रत्येक मनुष्य के हाथों की उंगलियों के निशान भी अलग-अलग हैं। यहां इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि ईश्वर ने इंसान को अत्यंत विविधता से बनाया है। उसने इंसान को कितना अनुपम रूप दिया, कितना अनोखा ढंग दिया और बिल्कुल अलग बनाया।

 

हर आदमी को सोचना चाहिए कि वह दुनिया में साधारण नहीं है। आपको परमात्मा ने अद्भुत शक्तियां दी हैं। एक दायरे में घूमते-घूमते अपनी जिंदगी खत्म कर देना समझदारी नहीं है। अपनी पहचान कायम करनी है। इसके लिए जरूरी है कि अपने को जानने का प्रयास करो। शरीर आपकी पहचान जरूर है। आपका एक नाम है परन्तु अलग-अलग रिश्ते से आपको नाम दिए गए हैं। कोई पिता कह रहा है, कोई भाई कह रहा है, कोई चाचा तो कोई मामा कह रहा है लेकिन यह भी आपकी पहचान नहीं है। सब चेतन स्वरूप हैं, एक आत्मा के रूप में हैं और अपनी चेतना से हमें इस संसार के मायाजाल से ऊपर उठने का प्रयास करना है।  

अपनी प्रतिक्रिया दें

महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।

Related Posts you may like

mison 2017

आपका शहर

विज्ञापन

mison 2017

Like us on Facebook

विज्ञापन

mison 2017